मैंने 10वीं परीक्षा उत्तीर्ण की और रेलवे में ट्रेन ड्राइवर बनना चाहता हूँ। मुझे ट्रेन ड्राइवर बनने के लिए जानकारी प्रदान करें।

सामान्य ज्ञान (जनरल नॉलेज)Category: guidanceमैंने 10वीं परीक्षा उत्तीर्ण की और रेलवे में ट्रेन ड्राइवर बनना चाहता हूँ। मुझे ट्रेन ड्राइवर बनने के लिए जानकारी प्रदान करें।
admin Staff asked 1 month ago
1 Answers
admin Staff answered 1 month ago

रेलवे में ट्रेन ड्राइवर को लोको पायलट कहा जाता है। रेलवे में शुरुआत में सहायक लोको पायलट के पद पर चयन किया जाता है और बाद में प्रमोशन से लोको पायलट बना जा सकता है। रेलवे में लोको पायलट बनने के लिए लोको पायलट एवं टेक्निशियन भर्ती के लिए समय-समय पर रिक्तियाँ निकलती रहती हैं। रेलवे में असिस्टेंट लोको पायलट का रोल काफी अहम होता है। असिस्टेंट लोको पायलट ट्रेन ड्राइव करने में लोको पायलट की मदद करता है।
उल्लेखनीय है कि भारतीय रेलवे में ट्रेन ड्राइवर बनने के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता 10वीं उत्तीर्ण होना है। इसके साथ-साथ 2 साल का आयटीआय डिप्लोमा या पॉलिटेक्निक डिप्लोमा होना आवश्यक है। भारतीय रेलवे में इंजन ड्राइवर बनने के लिए आयु सीमा 18 से 30 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
गौरतलब है कि सहायक लोको पायलट की चयन प्रक्रिया में लिखित परीक्षा, अभिरूचि परीक्षा और डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन शामिल होता है। लिखित परीक्षा के तहत कम्प्यूटर बेस्ड टेस्ट के दो चरण होते हैं। दोनों ही चरणों में सफल होने वाले उम्मीदवारों को एक और कंप्यूटर बेस्ड एप्टीट्यूड टेस्ट (सीबीएटी) से गुजरना होता है। इन विभिन्न चरणों में सफल होने वाले उम्मीदवारों का मेडिकल टेस्ट किया जाता है जिसमें पास होना बहुत जरूरी होता है। मेडिकल में खासकर आँखों का टेस्ट किया जाता है। जिसमें पता किया जाता है कि आपकी आँखों में कोई दृष्टिदोष तो नहीं है। अगर आप इस टेस्ट में पास हो जाते हैं तो आपको ट्रेनिंग के लिए बुलाया जाता है।